पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की स्थिति बिगड़ी, पटना एम्‍स में भर्ती; बिहार में मिले 599 नए मरीज

Share

कुछ दिनों पहले कोरोना संक्रमित पाए गए बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतनराम मांझी (Jitan Ram Manjhi) की स्थिति बिगड़ने के बाद उन्‍हें पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (Patna AIIMS) में भर्ती कराया गया है। वहां उनकी हालत में सुधार हुआ है। इस बीच बीते 24 घंटे के दौरान बिहार में कोरोना के 599 नए मरीज (Corona Positive Patients) मिले हैं। जबकि, 584 मरीज स्‍वस्‍थ भी हुए हैं। रविवार को पांच मरीजों की मौत (Corona Death) भी हो गई। राज्‍य में कुल सक्रिय मरीजों (Active Cases) की बात करें तो यह आंकड़ा 97.44 फीसद रिकवरी रेट (Recovery Rate) के साथ 4976 रह गया है।

पटना एम्‍स में भर्ती हुए मांझी, हालत में सुधार

हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा के अध्‍यक्ष एवं पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतन राम मांझी बीते 12 दिसंबर को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद से वे होम आइसोलेशन में थे। शनिवार को पटना एम्स में उनका सीटी स्कैन कराया गया। इसके बाद मांझी डॉक्टरों की सलाह पर रविवार को अस्पताल में भर्ती हो गए। उनकी हालत में सुधार है।

24 घंटे के दौरान मिले कुल 599 नए मरीज

बीते 24 घंटे के दौरान बिहार में कुल 599 नए मरीज मिले हैं। इस अवधि के दौरान स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या 584 है। राज्‍य में अब तक 247244 मरीज मिल चुके हैं, जिनमें से 240915 स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। कोरोना संक्रमित 1352 लोगों की मौत भी हो चुकी है। वर्तमान में बिहार में 97.44 फीसद रिकवरी दर के साथ सक्रिय मरीजों की संख्‍या 4976 है।

सर्वाधिक संक्रमण पटना में, अब तक 360 की मौत

कोरोना का सर्वाधिक संक्रमण पटना में है। पटना में अब तक कुल 46614 मरीज मिल चुके हैं। इनमें सक्रिय मरीज 1901 बचे हैं। जबकि 360 की मौत हो चुकी है। एम्स पटना के कोरोना नोडल पदाधिकारी डॉ. संजीव कुमार के अनुसार 24 घंटे में पटना के रूपसपुर, दानापुर, मालसलामी और राजीव नगर के चार मरीजों की मौत हो गई। पटना में सिवान के एक और मरीज की भी मौत हो गई।


Share

Vikash Mishra

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!