बिहार में कड़ाके की ठंड के कारण मौत का सिलसिला शुरू, नौ की गयी जान

Share

बिहार में कड़ाके की ठंड के चलते मौत का सिलसिला शुरू हो गया है। रविवार को शिवहर में तीन, वैशाली व नवादा में दो, जबकि छपरा व कैमूर में एक-एक की मौत ठंड लगने से हो गयी। हालांकि, शिवहर में पिछले तीन दिनों में चार लोगों को मिलाकर कुल सात लोगों की जान जा चुकी है।

रविवार को शिवहर के डुमरी कटसरी की फुलकाहा पंचायत के वार्ड 13 के उमेश पासवान की मौत ठंड से हो गई। मुखिया वर्षा बसंत ने भी मौत की पुष्टि की। पुरनहिया प्रखंड की बखार चंडीहा पंचायत के वार्ड 11 निवासी पूर्व शिक्षक शिवचंद्र द्विवेदी(95) व मिथिलेश देवी (75) की मौत शनिवार की देर रात हो गई। इनकी मौत की पुष्टि पंचायत की मुखिया प्रेमा देवी ने की। इस बाबत पूछे जाने पर शिवहर एसडीओ इश्तियाक अहमद अंसारी ने बताया कि तीन दिनों सात लोगों की मौत की सूचना मिली है, लेकिन ठंड से मौत की जानकारी नहीं है।

दूसरी ओर, वैशाली में कड़के की ठंड ने दो लोगों को अपनी चपेट में ले लिया और उनकी जान चली गई। ठंड से बचने के लिए लोग गांव में पत्ते- कूड़े आदि के अलाव जलाकर समय बिता रहे हैं। हालांकि, ठंड लगने से दोनों की मौत की पुष्टि किसी डॉक्टर द्वारा नहीं की गई है। नवादा के वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के अपसढ़ गांव में भी दो युवकों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। मृतकों में चांदो सिंह उर्फ चंद्रिका सिंह का 30 वर्षीय पुत्र सिंटू कुमार तथा जयकरण सिंह का 27 वर्षीय पुत्र रौशन कुमार शामिल हैं।

रविवार की सुबह दोनों की शराब पीने से मौत होने की अफवाह फैली, परंतु शाम होते- होते परिजनों व ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि ठंड के चलते दोनों की हो गई। घटना के बारे में अपसढ़ के ग्रामीण सह पंचायत के मुखिया राजकुमार सिंह ने बताया कि गांव के दोनों युवक खलिहान में सो रहे थे, जहां ठंड के चलते दोनों की तबियत बिगड़ गई। दूसरी ओर कैमूर के सेवरी नगर में स्थित नहर किनारे झोपड़ी डाल रह रहे परिवार के एक बच्चे की मौत रविवार की अहले सुबह हो गई। छपरा में भी ठंड से एक के मरने की सूचना है।


Share

Vikash Mishra

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!