सकरा में नल जल योजना की राशि से उपमुखिया ने बना लिया घर, जानिए मामला

Share

      मुजफ्फरपुर के सकरा में बना उपमुखिया का घर।

कहते हैं कि पद और पावर पास हो तो कुछ भी असंभव नहीं। कुछ ऐसा ही सकरा प्रखंड अंतर्गत बाजी बुजुर्ग पंचायत के वार्ड नंबर 10 में दिख रहा है जहां वार्ड सदस्य सह उपमुखिया सुनीता देवी के पति रवींद्र राय की मनमानी से ग्रामीण शुद्ध पेयजल को तरस रहे हैं। योजना की राशि से उपमुखिया ने अपना घर बना लिया है। बता दें कि मुख्यमंत्री सात निश्चय के तहत नल-जल योजना का काम पंचायत के हर वार्ड में प्रगति पर है। वार्ड नं. 10 के वार्ड सदस्य पति रवींद्र राय ने बिना किसी डर नल जल योजना की राशि से अपना मकान बना लिया। नल-जल का समरसेबल घर के समीप ही लगवा दिया। हैरत की बात है कि वे अपने मकान को ही नल जल का टावर कहते हैं।

रवींद्र राय कहते हैं कि यह मेरा मकान है। इसपर पीछे से नल जल योजना की टंकी लगाई जाएगी, जबकि नल-जल योजना को अलग बनाने का प्रावधान है। योजना की जाच कार्यपालक अभियंता द्वारा की जाती है। बावजूद इतनी बड़ी गड़बड़ी को किसी ने भी नहीं देखा जो चिंता का विषय है। वार्ड सदस्य खुद उपमुखिया हैं। इसलिए बिना किसी डर-भय राशि का उपयोग अपने मकान बनाने में कर लिया। हालाकि, बुधवार को पंचायत के जेई अमन कुमार ने योजना की जाच में इस पर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि इस संबंध में बीडीओ को जाच रिपोर्ट सौंपी जाएगी।

ग्रामीणों का कहना है कि पाइप लाइन का काम कहीं दो फीट कहीं एक फीट पर किया गया है। आधा अधूरा पाइप बिछाकर राशि की बंदरबाट की जा रही है। एस्टीमेट में जिस पाइप का जिक्र किया गया, वह नहीं लगाया गया। पाइप की गुणवत्ता पर भी ग्रामीणों ने सवाल उठाए। ग्रामीण सनोज कुमार, मनोज कुमार, राकेश कुमार ने कहा कि नल जल का काम नहीं होने से ग्रामीणों को शुद्ध पानी का संकट हो गया है। वार्ड सदस्य शिकायत करने नहीं सुनती हैं। तरह- तरह का बहाना बनाकर कार्य को बाधित कर रहीं हैं।


Share

Vikash Mishra

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!