Lockdown: महाराष्ट्र में फिर से लगेगा लॉकडाउन?, जानें डिप्टी सीएम अजित पवार ने क्या कहा

Share

मुंबई: त्यौहारी सीजन के बाद महाराष्ट्र में कोरोनो वायरस के मामलों में भारी वृद्धि को देखते हुए उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने आने वाले दिनों में राज्य में तालाबंदी के संकेत दिए हैं।

अजीत पवार ने कहा है कि दिवाली की अवधि के दौरान भारी भीड़ थी। गणेश चतुर्थी के समय भी, हमने भीड़ देखी। हम संबंधित विभागों से बात कर रहे हैं। हम अगले 8-10 दिनों के लिए स्थिति की समीक्षा करेंगे। लॉकडाउन के बारे में आगे निर्णय लिया जाएगा।

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजीत पवार का यह बयान सीएम उद्धव ठाकरे द्वारा रात 8 बजे राज्य में संबोधन देने से कुछ घंटे पहले आया है। जबकि बीएमसी (बृहन्मुंबई नगर निगम) का कहना है कि मुंबई में कोरोनो वायरस की स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है।

बता दें कि पिछले कुछ दिनों के आंकड़ों से सकारात्मक मामलों की संख्या में लगातार वृद्धि देखी गई है। चिकित्सा विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि दिवाली में लोगों के घर से बाहर भीड-भाड़ में जाने की वजह से कोरोनो वायरस की संख्या में एक बार फिर से वृद्धि हो सकती है।

विशेषज्ञों का कहना है कि लोगों को अधिक सावधान रहने की जरूरत है और दिवाली से लेकर नए साल तक का समय मुंबई के लिए महत्वपूर्ण होगा।

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,760 नए मामले सामने आये

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,760 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या शनिवार को बढ़कर 17,74,455 हो गई। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि शनिवार को संक्रमण के चलते 62 रोगियों की मौत हुई है, जिसके बाद मृतकों की कुल संख्या 46,573 हो गई है।

अधिकारी ने कहा कि राज्य में संक्रमण से मुक्त होने के बाद आज 4,088 लोगों को छुट्टी दे गई, जिसके साथ ही अबतक 16,47,004 कोविड-19 मरीज ठीक हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में फिलहाल 79,873 रोगियों का इलाज चल रहा है। मुम्बई में 1093 नये मरीज जाने से कोविड-19 के मामले बढ़कर 2,74,579 हो गये।

मुंबई में स्कूल 31 दिसम्बर तक बंद रहेंगे : बीएमसी

बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने शुक्रवार को घोषणा की कि शहर में स्कूल 31 दिसंबर तक बंद रहेंगे। इससे पहले स्कूलों को 23 नवंबर से फिर से खोलने का फैसला किया गया था। महानगर में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि दर्ज किये जाने के मद्देनजर स्कूलों को फिलहान नहीं खोलने का निर्णय किया गया है।

एक अधिकारी ने कहा कि हालांकि, महाराष्ट्र के अन्य शहरों में स्कूल स्थानीय परिस्थितियों और मौजूदा महामारी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए तय कार्यक्रम के अनुसार फिर से खुल सकते हैं।

महाराष्ट्र में स्कूल कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण मार्च से बंद हैं। इन स्कूलों को दिवाली की छुट्टियों के बाद 23 नवंबर से नवीं से बारहवीं कक्षा के लिए फिर से खोलने की तैयारी थी।


Share

NNB Live Bihar

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!