सकरा में महज बीस हजार रूपया के खातिर भाई ने कर दी भाई की पीट-पीटकर हत्या

Share

 

शव गांव में आते ही मचा कोहराम
● अंतिम दर्शन के लिए जुटे ग्रामीण
● घर से फरार दिखे अभियुक्त
●पुलिस कर रही गांव में कैम्प

● बड़े पुत्र ने दी मुखाग्नि

मुजफ्फरपुर:- सकरा थाना क्षेत्र के सिराजाबाद गांव में संपत्ति विवाद के कारण भाई ने भाई की हत्या कर दी ।गुरुवार को अंतपरीक्षण के बाद मृतक का शव जब गांव में पहुंचा तो अंतिम दर्शन के लिए ग्रामीणों की भीड़ जुट गई । जितने लोग उतनी बात होने लगे। मृतक की पत्नी का

रो – रोकर हाल बहुत बुरा था । वह बार-बार बेहोश हो रही थी ।लोग यह नहीं समझ पा रहे थे कि आखिर भाई ने इतनी बड़ी गलती क्यों कर दी ? सच तो यह है कि लोगों ने यह भी कहना शुरू कर दिया कि भाई अगर वक्त पर पैसा दे देता तो इतनी बडी घटना नही घटती ।
घटना के संदर्भ में बताते चलें कि 26 अक्टूबर की दोपहर गांव में धर्मेंद्र राय व हरेंद्र राय के बीच बीस हजार रूपया मांगने को लेकर विवाद हुआ था । बताया जाता है कि करीब 2 महीना पहले शौचालय के विवाद को लेकर गांव में पंचायत आयोजित की गई थी . जिसमें हरिंदर राय को शौचालय के एवज मे धर्मेंद्र राय को बीस हजार रूपया देना था ।वक्त बीतने के बाद जब हरिंद्र राय पैसा नहीं दिया तो धर्मेंद्र राय ने सोमवार की दोपहर हरिंदर राय से पैसे की मांग की । पैसा के विवाद को लेकर दोनों भाइयों में मारपीट की नौबत आ गई ।

मारपीट की स्थिति को देखते हुए हरेंद्र राय की पत्नी ममता देवी ने धर्मेंद्र पर बॉस से हमला कर दिया । दोनों में जमकर मारपीट शुरू हो गई। हरेंद्र राय की पत्नी ममता गांव के सुबोध राय, गणेश राय ,अशोक राय ,भागवत राय ,रोशन कुमार ,अशोक राम को बुलाकर धर्मेंद्र राय के साथ जमकर मारपीट की । मारपीट से जब घर्मेन्द्र बेहोस हो गया तो सभी लोग भाग निकले । घायल अवस्था में 26 अक्टूबर को ही धर्मेंद्र को मुजफ्फरपुर एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया जहां बेहतर इलाज के लिए उसे पीएमसीएच भेज दिया ।बताया जाता है कि इलाज के दौरान ही धर्मेंद्र की मौत बुधवार को हो गई । गुरुवार को शव गांव में आते ही कोहराम मच गया। धर्मेंद्र राय के ससुर दिनेश राय का कहना है कि दोनों भाइयों के बीच संपत्ति का विवाद करीब 15 लाख से अधिक का था । परंतु पंचों ने शौचालय के विवाद को तत्काल समाप्त करते हुए हरेंद्र राय पर बीस हजार का जुर्माना किया था । परंतु दबंगई के कारण हरिंदर पैसा नहीं दे रहा था व धर्मेंद्र को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया । इस संदर्भ में सकरा थाना में धर्मेंद्र राय के पुत्र सुधीर कुमार के द्वारा लिखित आवेदन दिया गया है जिसमें 8 लोगों को अभियुक्त बनाया गया है । धर्मेंद्र की पत्नी लता देवी बार-बार बेहोश हो रही थी पुलिस का कहना है कि मामले के संदर्भ में जॉच चल रही है । पंचायत के मुखिया के द्वारा कबीर अंत्येष्टि के तहत तीन हजार रूपया परिजनों को दी गई है।


Share

Vikash Mishra

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!