आपदा राहत वितरण में अनियमितता को लेकर बंदरा मुखिया संघ ने आमरण अनशन का लिया निर्णय

Share

बाढ़ आपदा राहत वितरण में अनियमितता को लेकर प्रखण्ड मुखिया संघ ने आमरण अनशन करने की चेतावनी दी है। मुखिया संघ की बैठक के बाद इस संबंध में अंचलाधिकारी बंदरा को मुखिया संघ के अध्यक्ष सह पीरापुर पंचायत के मुखिया गुडु कुमार ने लिखित सूचना दी है। उन्होंने बताया कि कुछ लोगों को तो आपदा राहत की राशि 6 हजार रूपये खाते में भेज दिया गया किन्तु बंदरा प्रखंड के कुल 12 पंचायतों के अधिकांश जनता आपदा राहत से अभिवंचित है। प्रखंड कार्यालय का चक्कर लगाते लगाते जनता परेशान है। स्थानीय मुखियों के द्वारा भी अधिकारियों से आग्रह या शिकायतों पर कोई कार्यवाई नहीं हो रही है। यदि इस बिन्दु पर तत्काल निदान नही हुआ तो बन्दरा प्रखंड मुखिया संघ प्रखंड मुख्यालय में दिनांक 18 सितंबर से पीड़ित जनता के साथ आमरण अनशन करेगी। जिसकी सारी जबावदेही प्रखंड प्रशासन की होगी । बैठक के दौरान मुखियों का कहना था कि प्रखंड के सभी पंचायत पूर्ण रुपेण बाढ़ ग्रस्त घोषित है फिर भी अधिकांश परिवार आपदा राहत से वंचित है । जबकि बिहार सरकार सभी पीड़ित परिवारों को बैंक खाते के माध्यम 6 हजार रुपये का भुगतान करने का का निर्देश दे चुका है। बैठक के दौरान सिमरा मुखिया पवन कुमार, बड़गांव मुखिया शंभू साह, पटसारा मुखिया रामराजी पंडित, नूनफारा मुखिया पति शकल राम, मतलुपुर मुखिया पति अशोक कुमार, रतवारा मुखिया पति महेंद्र कुमार वर्मा आदि मुखिया थे ।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!