बिहार: आज शाम तेज आंधी-पानी के बीच बुढ़ी गंडक नदी में पलटी नाव, चार के शव मिले, आधा दर्जन लापता

Share

बिहार के खगड़िया जिले में आज की रात बड़ी नौका दुर्घटना हुई। बाढ़ में उफनती बूढ़ी गंडक में करीब 20 लोगों के साथ एक नाव डूब गई। दुर्घटना खगड़िया व मानसी के बीच पांच किलोमीटर घाट पर तब हुई, जब बीच नदी में नाव अचानक तेज आंधी की चपेट में आ गई। देर रात तक घाट पर कोहराम मचा हुआ है। लोग अपनों को खोज रहे हैं। अभी तक चार लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। जबकि, आधा दर्जन से अधिक लोग लापता बताए जा रहे हैं।

अभी तक निकाले जा चुके चार शव

घटना स्‍थल पर राज्‍य आपदा प्रबंधन दल की टीम पहुंच चुकी है, लेकिन अंधेरा होने के कारण सर्च अभियान में परेशानी हो रही है। खगड़िया के डीएम आलोक रंजन घोष ने बताया कि हादसे में चार लोगों के मरने की सूचना मिली है, जिसकी पुष्टि की जा रही है। बचाव कार्य जारी हैं।

तेज आंधी की चपेट में आकर डूब गई नाव

मिली जानकारी के अनुसार नदी में पानी बढ़ने व यातायात का साधन नहीं रहने के कारण बूढ़ी गंडक के पार बसे एकनियां दियारा, सोसायटी टोला, सोनवर्षा आदि गांवों के सैकड़ों लोग रोज नाव से ही हाट-बाजार आते-जाते हैं। इसी क्रम में मानसी व खगड़िया बाजार से 20 लोग नाव से नदी पार अपने गांव जा रहे थे कि बीच नदी में तेज आंधी आई और नाव डूब गई। दुर्घटना में देखते-देखते सभी लाेग तेज धार में लापता हो गए। नाम के अधिकांश सवार महिलाएं व बच्चे थे। चार शव निकाले जा चुके हैं। जबकि, आधा दर्जन से अधिक लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं।

नाव मालिक के बेटी-दामाद भी लापता

रहीमपुर दक्षिणी पंचायत के पंचायत समिति सदस्य बलबीर यादव उर्फ पप्पू ने बताया कि नाव पर सवार सोसायटी टोला, वार्ड नंबर दो की रूपम देवी व विशेखा देवी के शव बरामद कर लिए गए हैं। एकनियां दियारा के कई लोगों ने बताया कि दुहाव जोधो यादव व सखिचंद्र यादव के भी शव बरामद कर लिए गए हैं। ग्रामीणों ने यह भी बताया कि नाव सोनवर्षा की थी। नाव पर नाव मालिक के बेटी-दामाद भी सवार थे। दोनों लापता हैं।

इनपुट : दैनिक जागरण


Share

Vikash Mishra

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!