बिहार में समस्तीपुर के सिविल सर्जन की कोरोना से मौत, एम्स पटना में हड़कंप

Share

समस्तीपुर/पटना: बिहार में कोरोना वायरस से पहली बार जिले के सबसे बड़े चिकित्सा पदाधिकारी यानी सिविल सर्जन की मौत हुई है। जान गंवाने वाले समस्तीपुर के सिविल रति रमण झा प्रख्यात सर्जन थे। सिविल सर्जन झा की कोरोना रिपोर्ट 14 जुलाई को पॉजिटिव आई थी। जिसके बाद से ही पूरे स्‍वास्‍थ्‍य महकमे में खलबली थी। झा को लगातार सांस लेने में परेशानी हो रही थी, जिसके बाद बेहतर इलाज के लिए उन्हें पटना स्थित एम्स में भर्ती कराया गया था। हाल के कुछ दिनों में उनके स्वास्थ्य में सुधार भी देखा गया था। मंगलवार रात से ही उनकी तबीयत अचानक बिगड़ी और बुधवार सुबह उनकी मौत हो गई।

दरभंगा और समस्तीपुर का इलाका बुरी तरह प्रभावित

ताजा सर्वे में ये जानकारी मिली है कि बिहार का दरभंगा और समस्तीपुर जिला कोरोना वायरस से बुरी तरह संक्रमित है। पांच मानकों पर किये गए सर्वे में बात सामने आई है यहां स्वास्थ्य संसाधनों का घोर अभाव है। तभी तो जिले के सिविल सर्जन ही काल के गाल में समा गए। ऐसे में आम लोगों की सलामती को लेकर सवाल किये जा रहे हैं।

इससे पहले समस्तीपुर में ही सरायरंजन विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक रामाश्रय इस्सर उर्फ संतबाबा के पोते नयन कुमार इस्सर उर्फ मनीष की कोरोना से मौत हो चुकी है। अब सिविल सर्जन की मौत से जिले में आम लोग घबराये हुए हैं। वहीं बिहार सरकार लोगों को कोई पुख्ता दिलासा नहीं दे पा रही है। समस्तीपुर में बीते 36 घंटे में तीन लोगों की मौत से सनसनी है। अब तक जिले में कोरोना वायरस संक्रमण से 11 लोगों की मौत हो चुकी है।


Share

NNB Live Bihar

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!