मुजफ्फरपुर: रेप पीड़िता की खुदकुशी मामले में आठ नामजद, थानेदार के खिलाफ जांच

Share

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के कटरा में रेप पीड़िता की खुदकुशी के 12 घंटे बाद एएसपी पूर्वी ने ऑन-स्पॉट एफआईआर दर्ज की। इसमें मुख्य आरोपित व उसके परिवार के सात सदस्यों को आरोपित किया। वहीं, इस पूरे प्रकरण में थानेदार की भूमिका की जांच का निर्देश दिया है। इसके बाद गुस्साए ग्रामीणों ने शव को पुलिस के हवाले किया। पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा। बुधवार की सुबह मेडिकल बोर्ड गठित कर पोस्टमार्टम कराया गया। पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई गई। ​
मृतका के पिता के आवेदन के आलोक में एएसपी पूर्वी अमितेश कुमार ने मौके पर ही केस दर्ज किया। आवेदन में थानाध्यक्ष पर पीड़िता को खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोप भी लगाया गया है। पिता ने कहा है कि उनकी बेटी ने थानेदार के ढुलमुल रवैये से दुखी होकर खुदकुशी की है। थानाध्यक्ष पर और भी आरोप लगे हैं, लेकिन एफआईआर बुक में थानाध्यक्ष को आरोप से फिलहाल मुक्त रखा गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई संभव हो सकेगी। ​
रेलवे में कार्यरत है मुख्य आरोपित :​
मुख्य आरोपित रेलवे में नौकरी करता है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस वारंट भी ले चुकी है, लेकिन वह बीते फरवरी से ही छुट्टी पर है। इसके लिए रेलवे से भी संपर्क किया जा रहा है। बताया जाता है कि वह बरौनी-कटिहार रेलखंड के किसी स्टेशन पर कार्यरत है। छुट्टी पर होने की वजह से उसकी सही लोकेशन नहीं मिल रही है। ​

दोषी मिलने पर नपेंगे थानेदार :​
एएसपी पूर्वी ने बताया कि थानेदार सिकंदर कुमार की भूमिका कैसी थी और क्या उन्होंने कॉल करने पर पीड़िता व उसके परिजन के साथ गलत ढंग से बात की और कॉल काट दी थी, इसकी वैज्ञानिक तरीके से जांच कराई जा रही है। वरीय पुलिस पदाधिकारी इसकी जांच कर रहे हैं। दोषी मिलने पर विभागीय के साथ कानूनी कार्रवाई भी होगी। ​

12 घंटे तक जमे रहे ग्रामीण :​
मंगलवार की दोपहर तीन बजे अपने कमरे में रेप पीड़िता ने दुपट्टा का फंदा डालकर खुदकुशी कर ली थी। इसके बाद से आरोपितों की गिरफ्तारी व थानेदार पर कार्रवाई की मांग को लेकर परिजन और ग्रामीण रात के तीन बजे तक अड़े रहे। रात करीब दो बजे एएसपी पूर्वी के पहुंचने और ऑनस्पॉट एफआईआर करने के बाद सभी शांत हुए।​

शादी का झांसा देकर यौन शोषण:​
मृतका के परिजनों का आरोप है कि गांव के ही एक युवक ने शादी का झांसा देकर युवती का यौन शोषण किया। जब युवती गर्भवती हुई और शादी के लिए दबाव बनाना शुरू किया तो युवक ने धोखा देकर गर्भपात करा दिया। इस बीच युवक की रेलवे में नौकरी लग गई। इसके बाद युवती ने कटरा थाने में छह फरवरी 2020 को मुख्य आरोपित समेत नौ के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी।​

​मुख्य आरोपित व उसके परिवार के सात सदस्यों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। थानेदार के खिलाफ एफआईआर नहीं हुई है। उनके खिलाफ जांच कराई जा रही है। मुख्य आरोपित अपनी ड्यूटी से बीते फरवरी से छुट्टी पर है। पुलिस जल्द गिरफ्तार करेगी। ​
-अमितेश कुमार, एएसपी पूर्वी

Input-Hindustan


Share

Gulam Gaush

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!