घर लौट रही नाबालिग लड़की को बीच रास्ते से उठाया, फिर सात लड़कों ने किया गैंगरेप

Share

पटना : बिहार के पटना सिटी के अगमकुआं थाना क्षेत्र में एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां परिवार के अन्य सदस्यों के साथ घर लौट रही नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप की शर्मनाक वारदात को अंजाम दिया गया। पीड़ित परिवार ने पुलिस को जब गैंगरेप की घटना की जानकारी दी तो पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सभी सात आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया। पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए गर्दनीबाग अस्पताल भेजा गया है। गैंगरेप की घटना बीते 22 जून की बताई जा रही है।

परिजनों के मुताबिक, 22 जून की रात करीब साढ़े नौ बजे लड़की परिवार के अन्य सदस्यों के साथ समीप के एक भोज समारोह से अपने घर वापस लौट रही थी। इस दौरान मोहल्ले के लड़कों ने उसे बीच रास्ते से उठा लिया और अपने साथ समीप के खेत में ले गये। जहां युवकों ने बारी-बारी से घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। घटना के बाद पीड़िता घर पहुंची और उसने अपने परिजनों को इस घटना के बारे में विस्तार से बताया। बेटी की बात सुनते ही परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई।

बताया जाता है कि आरोपितों ने परिवार वालों को धमकाते हुए कहा था कि पुलिस में शिकायत किए जाने पर इसका परिणाम बहुत ही बुरा होगा। जिस कारण परिवार के लोग सहम गए और घर पर ही दुबके रहे। गुरुवार की सुबह परिजनों ने परिवार के अन्य लोगों द्वारा हिम्मत बढ़ाए जाने पर थाना पहुंचे और पूरे मामले से पुलिस को अवगत कराया।

वहीं दूसरी तरफ, पुलिस ने पीड़िता की निशानदेही पर तुरंत कार्रवाई करते हुए सभी सातों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पकड़े गए सभी सात आरोपितों से कड़ी पूछताछ कर रही है। वहीं पूरे मामले पर पटना सिटी एडिशनल एसपी मनीष कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए सभी सात आरोपितों को गिरफ्तार कर लिए जाने की बात कहते हुए उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई किए जाने का भी भरोसा दिलाया है। गिरफ्तार किए गए युवकों में अखिलेश कुमार उर्फ हॉर्लिक्स, उत्तम कुमार, भोला कुमार, महादेव कुमार, लक्ष्मण महतो, अजीत कुमार व मीरा कुमार शामिल हैं।


Share

NNB Live Bihar

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!