Unlock 1: ढाई महीने बाद आज से खुल रहे धार्मिक स्थल, रेस्तरां, मॉल; जानें किस राज्य में क्या है तैयारी

Share

Unlock 1.0: कोरोना और लॉकडाउन के चलते लगभग ढाई महीने से बंद धार्मिक स्थल, रेस्तरां, होटल और शॉपिंग मॉल आज (सोमवार) से खुलने जा रहे हैं, लेकिन सब पहले जैसा नहीं होगा। पूजा-पाठ, रेस्तरां में खाना खाने और मॉल में शॉपिंग करने के तरीके बदल जाएंगे। नियमों के साथ आपकों यहां जाने की अनुमति दी जाएगी। सभी राज्यों ने अपनी-अपनी तैयारी पूरी कर ली है। हालांकि, आठ जून को वैष्णो देवी और बांके बिहारी मंदिर नहीं खुलेगा। अभी इन्हें लोगों के लिए खोलने का निर्देश नहीं दिया गया है। वहीं, श्रीकृष्ण जन्मस्थान और हरिद्वार के मंदिर आदि खुल जाएंगे। आइए जानते हैं कि अनलॉक-1 (Unlock-1) के तहत मिलने वाली छूट को लेकर किस राज्य में क्या तैयारी है।

उत्तराखंड : चारधाम यात्रा छोड़ अन्य सेवाओं को खोलने के आदेश.

उत्तराखंड सरकार ने चारधाम यात्रा को छोड़ अन्य सेवाओं को खोलने के आदेश कर दिए हैं। होटल छोड़कर अन्य सभी फिलहाल शाम सात बजे तक ही खुल सकेंगे। देर शाम मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने यह आदेश किए। होटल संचालकों को साफ निर्देश दिए गए हैं कि वे कोराना के लिहाज से संवेदनशील शहरों से कोई बुकिंग नहीं लेंगे। 

कर्नाटक: बच्चे और बुजुर्गों को नहीं दिया जाएगा प्रवेश 

कर्नाटक में धार्मिक स्थल, मॉल, रेस्तरां सोमवार को खुल जाएंगे। लेकिन बच्चों व बुजुर्गों को प्रवेश नहीं मिलेगा। चर्च जाने वालों को 13 जून तक इंतजार करना होगा। मंदिरों में चरणामृत या प्रसाद का वितरण नहीं किया जाएगा न ही भक्त मंदिर की घंटियों को बजा सकेंगे। 
तेलंगाना : सख्त नियमों के साथ खुलेंगे 
मॉल, रेस्तरां सीमित संख्या में प्रवेश, सामाजिक दूरी का अनुपालन और अन्य दिशानिर्देशों के साथ हैदराबाद के शॉपिंग मॉल सोमवार से खुलने को तैयार हैं। तेलंगाना सरकार ने सख्ती के साथ नियमों को पालन कराने के निर्देश दिए हैं। 

पंजाब: लंगर पर रोक की समीक्षा करें 

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के अध्यक्ष गोबिंद सिंह लोंगोवाल ने रविवार को पंजाब सरकार से लंगर को लेकर जारी दिशानिर्देश की समीक्षा करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि लंगर सिख धर्म का अविभाज्य अंग है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के मौजूदा चरण में राज्य सरकार ने सोमवार से धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति दे दी है, लेकिन शनिवार को इस संबंध में जारी दिशानिर्देश में लंगर में प्रसाद देने पर रोक लगाई गई है।

गुजरात सरकार ने लिया यह फैसला 

गुजरात सरकार ने फैसला लिया है कि धार्मिक स्थलों में सामाजिक मेल-जोल से दूरी बनाए रखने और भीड़ जमा होने से बचने के लिए पाली (शिफ्ट) के अनुसार प्रार्थना आयोजित की जाएगी। वहीं, श्रद्धालुओं को प्रवेश का समय देने के लिए टोकन प्रणाली शुरू करने का फैसला लिया है। सोमनाथ मंदिर सोमवार से स्थानीय श्रद्धालुओं के लिए खुल जाएगा, लेकिन अन्य जिलों के श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए 12 जून से ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा। वहीं, मॉल और रेस्तरां में केंद्र सरकार द्वारा जारी नियम के मुताबिक लोगों आने दिया जाएगा।
 
महाराष्ट्र: धार्मिक स्थलों को खोलने पर कोई फैसला नहीं

महाराष्ट्र सरकार ने धार्मिक स्थलों को खोलने पर अभी कोई निर्णय नहीं लिया है। दरअसल, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पिछले सप्ताह लॉकडाउन को 30 जून तक विस्तारित करते हुए धार्मिक स्थलों को कुछ समय के लिए और बंद रखने का फैसला किया था। राज्य के कानून एवं न्याय विभाग के सचिव राजेंद्र भागवत ने कहा, लोगों के लिए मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर और अन्य धार्मिक स्थल खोलने पर अभी निर्णय लिया जाना बाकी है। इस तरह के स्थलों पर लोगों को एकत्र होने की अनुमति देने के बारे में अभी कोई फैसला नहीं किया गया है।
 
बिहार: सभी धार्मिक स्थलों पर जा सकेंगे लोग

बिहार में मंदिर-मस्जिद समेत सभी धार्मिक स्थलों पर लोग जा सकेंगे। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी के रविवार को इसका आदेश जारी कर दिया। इस दौरान कोरोना से बचाव के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करना होगा। रेस्तरां और मॉल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। हालांकि, कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए बनाए गए कंटेनमेंट जोन में कोई छूट नहीं मिलेगी। कंटेनमेंट जोन में 30 जून तक लॉकडाउन लागू रहेगा।
 
ब्रज के कई प्रमुख मंदिर बंद

श्री कृष्ण जन्मस्थान को छोड़कर ब्रज का कोई भी प्रमुख मंदिर सोमवार को नहीं खुलेगा। रविवार को जिलाधिकारी द्वारा मंदिर प्रबंधनों के साथ की गई बैठक के बाद सभी ने वर्तमान हालात में मंदिर खोलने से हाथ खड़े कर दिए हैं। मंदिर प्रबंधन का साफ कहना है कि मंदिर आने वाली भीड़ को जब तक पुलिस प्रशासन नियंत्रित नहीं करेगा, वह मंदिर नहीं खोल सकते। मिर्जापुर का मां विंध्यवासिनी धाम, मथुरा का बांके बिहारी मंदिर, लखनऊ की आसिफी मस्जिद शमिल हैं। बाराबंकी में देवा शरीफ मजार भी 24 जून से पहले नहीं खुलेगी। वहीं वाराणसी का काशी विश्वनाथ मंदिर मंगलवार से खुलेगा।

यूपी में क्या-क्या खुलेगा?

अनलॉक व्यवस्था के दूसरे चरण में यूपी सरकार सोमवार से जनता को और भी सहूलियतें देने जा रही है। इनका उपयोग बेहद सतर्कता व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए करना होगा। 8 जून से धार्मिक स्थल के साथ साथ शॉपिंग मॉल, होटल व रेस्तरां तो खुलेंगे ही। साथ ही सरकार दफ्तर भी पूरी तरह खुल जाएंगे। हालांकि अधिक कंटेनमेंट जोन वाले शहरों व जिलों में फिलहाल इन्हें खोले जाने पर अंतिम निर्णय नहीं हो सका है। प्रदेश सरकार ने वहां के जिलाधिकारियों को इस संबंध में निर्णय लेने का अधिकार दे दिया है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शनिवार रात निर्देश लेकर सभी डीएम व एसपी ने अपने-अपने जिलों में नई व्यवस्था लागू करने की रणनीति बनाई है। सीएम ने साफ कर दिया है कि अनलॉक का मतलब स्वतंत्रता नहीं है। इस लिहाज से शासन व प्रशासन कहीं भीड़ एकत्र न होने को लेकर खासी सतर्कता बरत रहा है और सोमवार से खुल रहे सभी स्थलों पर लोगों की आवाजाही पर निगाह रहेगी। यह भी देखा जाएगा कि मुख्यमंत्री के निर्देशों व मुख्य सचिव द्वारा लागू गाइडलाइंस का पालन हो रहा है या नहीं।

Input-Hindustan


Share

Gulam Gaush

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!