सकरा के बच्चे को बुखार से पटना में इलाज के दौरान मौत

Share

 

सकरा प्रखंड के राजापाकड़ गांव के महादलित टोला में बुखार से पीड़ित एक वर्ष के बच्चे की इलाज के दौरान शनिवार देर रात पटना में मौत हो गई। मृत बच्चा गांव के रंजीत मांझी के एक वर्षीय पुत्र सन्नी कुमार के रूप में हुई है । रविवार के सुबह पटना से निजी एम्बुलेंस से बच्चे का शव को लेकर परिजन गांव पहुंचे। बच्चे के पिता रंजीत मांझी और मां मुन्नी देवी के साथ परिजनों के चीख़- पुकार से टोला में मातम पसर गया। मां विलाप करते हुए कह रही थी, कर्ज लेकर इलाज कराया फिर भी बेटे की जान नहीं बची। पिता रंजीत मांझी ने बताया कि बच्चे को 20 मई को तेज बुखार, पैखाना और चमकी हुआ था। तब सकरा अस्पताल लेकर पहुचा जहां से एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया। एक सप्ताह तक एसकेएमसीएच में बच्चे को भर्ती कर इलाज किया गया। दो दिन पहले पटना पीएमसीएच रेफर कर दिया गया। पटना में इलाज के दौरान बच्चे की मौत हो गई। मृत बच्चे का शव लेकर गांव पहुंचने के लिए पैसे नहीं होने से काफी परेशानी हुई। मुखिया से संपर्क किया तो उन्होंने गाड़ी भाड़ा देने का आश्वासन दिया। इसके बाद एंबुलेंस से गांव आया। मुखिया के ससूर बैजू साह ने एम्बुलेंस चालक को 25 सौ रुपये दिया। सकरा रेफरल अस्पताल के हेल्थ मैनेजर संजीव कुमार ने बताया कि बच्चे को बुखार के साथ अन्य बीमारी थी जिसे सकरा से रेफर किया गया था और उसकी मौत होने की सूचना मिली है।

 

डेमो pic..

Share

Vikash Mishra

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!