मुजफ्फरपुर में 8 घंटे में महिला समेत चार की हत्या..

Share

लॉकडाउन के बीच मुजफ्फरपुर में आठ घंटे में एक महिला समेत चार लोगों की हत्या कर दी गई। ताबड़तोड़ हुई हत्याकांडों से मंगलवार सुबह-सुबह पुलिस महकमे में हलचल मच गई। सभी हत्याएं जमीन व आपसी विवाद को लेकर हुई। पुलिस सभी मामले की छानबीन में जुटी है। सिवाईपट्टी व कुढ़नी हत्या में परिजन ने नामजद केस दर्ज कराया है। वहीं, बरुराज में हुई हत्या की अबतक रिपोर्ट नहीं लिखाई गई है। जबकि, पारू मामले में अबतक परिजन ने थाने में शिकायत तक नहीं की है।

मीनापुर प्रखंड के सिवाईपट्टी थाना के हरशेर में संपत्ति विवाद में फौजी ने मायके आयी बहन रुपा देवी को सोमवार की रात करीब सवा दस बजे गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात को अपने लाइसेंसी रिवॉल्वर से अंजाम दिया। इसके बाद से वह फरार है। दिल्ली में उसकी ड्यूटी बतायी जा रही है। महिला अपने छोटे भाई की शादी में पूर्वी चंपारण के पताही थाना क्षेत्र के रतनशार गांव ससुराल से मायके हरशेर आयी थी। रुपा के भैसुर के बयान पर बड़े भाई फौजी निरंजन कुमार उर्फ वरुण के खिलाफ एफआईआर करायी है।

ब्लेड से गला रेतकर, घर के पास फेंका शव
बरुराज थाना क्षेत्र के मोहद्दीपुर निवासी किसान राजकिशोर (55) की ब्लेड से गला रेतकर हत्या कर दी गई। घर से 700 मीटर की दूर स्थित बगीचा में उनके शव को फेंक दिया। इनके पास से डायरी व नकदी भी गायब है। घटना देर रात करीब दो बजे की बतायी जा रही है। सुबह करीब छह बजे परिजन को इसकी जानकारी ग्रामीणों से मिली। बेटा मुकेश को आशंका है कि उसके पिता के पास अक्सर मोटा रकम रहता था। उक्त राशि के लिए उसके पिता की हत्या की गई है। देर शाम तक मामले में एफआईआर नहीं हो सकी थी। मामले की डॉग स्क्वायड ने भी जांच की। लेकिन, सुराग नहीं मिल सका।

कुढ़नी में आपसी विवाद में वृद्ध की हत्या
कुढ़नी के कमतौल में आपसी विवाद को लेकर किसान शंकर साह (60) को अगवा कर मकई के खेत में हाथ पैर बांध कर पिटाई की गई। इसके बाद अचेतावस्था में छोड़कर हमलावर भाग निकले। ग्रामीणों की सूचना पर सुबह करीब पांच परिजन पहुंचे। उन्हें कुढ़नी पीएचसी ले गए जहां से बेहतर इलाज के लिए एसकेएमसीएच रेफर कर दिया। एसकेएमसीएच में शंकर की इलाज के दौरान सुबह छह बजे मौत हो गई। मामले में शंकर के पुत्र रमेश कुमार ने गांव के ही दो लोगों नामजद किया है।

पारू में नदी में मिली अधेड़ की लाश 
पारू थाना क्षेत्र के चैनपुर चिउटाहां गांव स्थित बाया नदी में डूबर गौड़ निवासी बासुदेव सहनी(48) की लाश मिली। उसके नाक और मुंह पर खून के धब्बे थे। लोगों को आशंका है कि बासुदेव सहनी को मारपीट कर हत्या करने के बाद नदी में फेंक दिया गया। लेकिन, देर शाम तक मामले में बासुदेव सहनी के परिजन ने पारू थाने में शिकायत नहीं की है। पुलिस का कहना है कि नदी में डूबने से मौत हुई है। मामले में आवेदन नहीं मिलने पर यूडी केस दर्ज किया जाएगा।

बरुराज, कुढ़नी व सिवाईपट्टी में महिला समेत तीन की हत्या हुई है। तीनों में आपसी विवाद सामने आया है। एएसपी ईस्ट, डीएसपी वेस्ट और एसडीपीओ सरैया इसकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं। जल्द ही हत्यारे पकड़े जाएंगे। पारू में नदी में डूबने से अधेड़ की मौत हुई है। जांच जारी है। 

Input-Hindustan


Share

NNB Live Bihar

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!