अन्नदाता को राहत / फसल क्षति का मुआवजा किसानों को 15 तक मिलेगा, 578 करोड़ रु. जारी

Share

फसल क्षति का मुआवजा 15 मई तक किसानों को मिल जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कृषि विभाग और खाद्य व उपभोक्ता संरक्षण विभाग की समीक्षा करते हुए किसानों को हर हाल में तिथि तक मुआवजा का भुगतान कर देने का आदेश दिया। अप्रैल और मई माह में कोई फसल क्षति के मुआवजे का भुगतान भी इसी माह के अंत तक कर दिया जाएगा। सरकार ने फसल क्षति मुआवजे के लिए 578 करोड़ रुपए जारी किए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यावरण में बदलाव के कारण भी फसलों की भी क्षति हुई है और अभी भी हो रही है।

अप्रैल और मई में असमय बारिश और ओलावृष्टि के वजह से भी किसानों को फसल क्षति होने की सूचना मिल रही है। कृषि विभाग सभी जिलों में इसका जल्द से जल्द सर्वे कराकर के किसानों को मुआवजा भुगतान की कार्रवाई करे। फसल क्षति सर्वे की अवधि विस्तारित की गई है। सभी जरूरतमंदों का आवेदन प्राप्त कर इसका लाभ दिलाएं। किसानों को मदद के लिए हमलोगों ने कई कदम उठाए हैं।

सभी जिलों में मौसम के अनुकूल खेती

  • गेहूं के साथ मक्का और पान की खेती के भी नुकसान का आकलन कर मुआवजा दें
  • राशन कार्ड जारी करने के बाद खाद्यान्न की आवश्यकता का करें आकलन। परिवारों में बंटवारा होने से राशन कार्डधारियों की संख्या बढ़ती है, इसमें किसी प्रकार का भ्रम नहीं होना चाहिए
  • जिन लोगों के नाम एक से ज्यादा राशन कार्ड में हैं, उनका एक स्थान से नाम हटाया जाए
  • शहरी क्षेत्रों में राशन कार्ड से वंचित परिवारों का सही सर्वे होना चाहिए

 Input- दैनिक भास्कर


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!