कभी गांव में पढ़ाते थे ट्यूशन, आज भारत का सर्वश्रेष्ठ लर्निंग ऐप चलाते हैं: BYJU’S App

Share

अगर आप कोई व्यापार प्रारंभ करना चाहते हैं तो इसमें दो चीजों का होना बहुत मायने रखता है। पहले आपकी मेहनत और दूसरी आपकी सोंच। आपकी सोंच ऐसी होनी चाहिए जो आपकी मेहनत के पूरक हो। आप उस पर इतनी शिद्दत से कार्य करिए कि आप उसमें सफल होकर अन्य व्यक्तियों के लिए मिसाल बन पाए।

टीचिंग को दिया नया रूप

आज हम आपको एक ऐसे शख्स की कहानी बताएंगे जिन्होंने एक छोटे से कार्यों को एक नया रूप देकर करोड़ों का साम्राज्य स्थापित किया। वह शख़्स हैं बायजू रवीन्द्रन (Byju Raveendran)। उन्होंने टीचिंग को नया रूप देकर सफलता की ऊंचाई चढ़ी है। -Byju’s The Learning App By Byju Raveendran From Kerala

 

रखते हैं मध्यम वर्गीय परिवार से नाता

बायजू रवीन्द्रन (Byju Raveendran) का जन्म केरल (Kerala) के आझीकोड में हुआ। वह एक मध्यमवर्गीय फैमिली से ताल्लुक रखते हैं। उनके पैरेंट्स शिक्षक हैं और उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने जन्म स्थान से ही प्राप्त की। इसके उपरांत उन्होंने कालीकट यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। उन्हें अपने पैरंट्स से टीचिंग विरासत में ही मिली थी।

हमेशा देखते रहे टीचिंग का सपना

वह शुरू से हीं टीचर बनने की ख्वाहिश रखते थे, परंतु यह थोड़ा मुश्किल था। अपनी पढ़ाई संपन्न करने के उपरांत उनकी नौकरी मल्टीनेशनल शिपिंग कंपनी में लग गई। नौकरी के उपरांत भी उनके मन में टीचिंग का सपना आता रहा। जब उन्हें इस बात की जानकारी मिली कि उनके कुछ मित्र एमबीए की तैयारी में लगे हैं तो उन्होंने उन सबका मदद करने का निश्चय किया।

दिया सबसे कठिन कैट का एग्जाम

उन्होंने निश्चय किया कि वह कैट का एग्जाम देंगे और फिर उन्होंने नौकरी के दौरान इसकी तैयारी प्रारम्भ की। सबसे कठिन माने जाने वाला कैट के एग्जाम में उन्हें 100 परसेंट मार्क्स प्राप्त हुए। हालांकि वह अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं थे जिसके लिए उन्होंने फिर से इसका एग्जाम दिया। ताकि वह समझ जाएगी वह सच में इतने सक्षम है। इस एग्जाम में भी उन्हें 100% मार्क्स मिलें और वह IIM की परीक्षा में टॉप हुए।

कैट के एग्जाम में टॉपर होने के बावजूद भी उन्होंने कहीं एडमिशन नहीं लिया और आईआईएम (IIM) के एंट्रेंस की कोचिंग देनी प्रारंभ की। शुरुआत में उन्होंने बच्चों को फ्री कोचिंग देना ही शुरू किया। उनकी पढ़ाने की कौशल इतनी बेहतरीन थी कि हर बच्चे सक्सेस होते रहे। जिस कारण उनके कोचिंग में स्टूडेंट्स की संख्या बढ़ने लगी। वर्ष 2006 में उनके कोचिंग में मात्र 40 से स्टूडेंट थे, परंतु वर्ष 2011 में 1000 स्टूडेंट्स हो गए। उन्होंने वर्ष 2009 में ऑनलाइन वीडियो लर्निंग प्रोग्राम भी प्रारंभ की।

उनके एक स्टूडेंट ने उन्हें सजेशन दिया कि सर आप क्यों नहीं ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म खोल लेते हैं? उन्होंने इस पर अमल किया और वर्ष 2011 में अपनी पत्नी दिव्या गुरुकुल के साथ मिलकर “थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड” नाम से कंपनी खोली। जो अब Byju’s The Learning App के नाम से जानी जाती है। वर्ष 2015 में इतनी बड़ी सफलता हासिल होने के उपरांत उन्होंने वर्ष 2019 में अपने विज्ञापनों पर लगभग 450 करोड़ रुपए किए खर्च किए।

आखिर क्या है ये ऐप?

जिस तरह हम खाने-पीने और शॉपिंग की सामग्रियां ऑनलाइन एप के जरिए हासिल करते हैं। ठीक उसी प्रकार इस एप के द्वारा हम ऑनलाइन एजुकेशन प्राप्त कर सकते हैं। इस लर्निंग एप से आप सभी प्रकार के कोर्स की तैयारी कर सकते हैं। इस ऐप पर बच्चों की क्लास से लेकर आईएएस आईपीएस नीट एवं अन्य कॉम्पिटेटिव एक्जाम की तैयारी कराई जाती है। इसे प्रतिदिन लगभग 70000 लोग डाउनलोड करते हैं। इसके यूजर्स की संख्या करीब डेढ़ करोड़ है। आप 15 दिनों तक इसे फ्री उपयोग कर सकते हैं एवं फिर इसके उपरांत आपको इसकी फीस भरनी पड़ेगी।

 

इंडिया का सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन एजुकेशन स्टार्टअप

आज यह कंपनी इंडिया का सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन एजुकेशन स्टार्टअप बन चुकी है। वर्ष 2021 के मार्च में लगभग 3328 करोड़ से भी अधिक फंडिंग जुटाकर इसका वैल्यूएशन करीब 95000 करोड़ रूपए हुआ था। जिसका वैल्यूएशन बढ़कर 4389 रुपए हुआ है।

वह अपने फंड रेजिंग से लगभग 4500 करोड़ रुपए एकत्रित करने में लगे हुए हैं। जिससे उनके स्टार्टअप का वैल्यूएशन लगभग 1500 करोड़ डॉलर, यानी लगभग एक लाख करोड़ रुपए होगा। इतनी बड़ी उपलब्धि हासिल करने के बाद वर्ष 2019 में उन्होंने फोर्ब्स के अरबपतियों की श्रेणी में अपना नाम दर्ज करा लिया है।


Share

NNB Live Bihar

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!