आजादी का अमृत महोत्सव पर आयोजित किया गया ई किसान चौपाल।

Share

मुजफ्फरपुर : कृषि विज्ञान केंद्र तुर्की में जलवायु अनुकूल जैविक खेती पर ई-चौपाल का आयोजन किया गया।

उद्घाटन कृषि विश्वविद्यालय पूसा के मुख-संरक्षक डॉ. आर.सी. श्रीवास्तव, संरक्षक प्रसार शिक्षा डॉ. एमएस कुंडू, ने किया।

उन्होंने जलवायु अनुकूल जैविक खेती पर ई-चौपाल का आयोजन करने के लिए कृषि विज्ञान केंद्र तुर्की को धन्यवाद दिया और कहा कि यह चौपाल किसानों के लिए बहुत ही उपयोगी है। उन्होने किसानों से कहा कि मौसम अनुकूल जैविक खेती को करने से उसकी पैदावार बढ़ाने के लिए जो जानकारी इस किसान चौपाल में विशेषज्ञ ने दिया है, उस पर किसान अमल कर सब्जी से खूब मुनाफा कमा सकते हैं और उनकी सब्जी, अनाज इत्यादि को खराब होने से भी बचेगी।

चौपाल में हैदराबाद से विशेषज्ञ डॉ. सूर्या राठौर प्राध्यापक वैज्ञानिक, ने किसानों को जैविक पोषण वाटिका के बारे में विस्तार पूर्वक बताया। करनाल से विशेषज्ञ – डॉ. बाबू लाल मीणा, वरिष्ठ वैज्ञानिक जैविक खेती के सिद्धांत के बारे में किसानों के साथ गहन मंथन किया।

कृषि विज्ञान केंद्र, तुर्की, से आयोजक – डॉ. मोतीलाल मीणा वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष, ने स्वागत एवं परिचय कराते हुए जलवायु अनुकूल जैविक खेती पर चर्चा किया। तो वही सह-आयोजक – डॉ. निधि कुमारी, विषय वस्तु विशेषज्ञ प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम किया।

किसान प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम में किसानों ने अपनी जलवायु अनुकूल जैविक खेती से जुड़े हुए सवाल पूछे और वैज्ञानिकों एवं जाले के विषय वस्तु विशेषज्ञ द्वारा उनका निवारण दिया गया। अंत में डॉ. निधि कुमारी ने सभी किसानों का एवं समस्त वैज्ञानिक गणों को इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए धन्यवाद दिया। इस ई-चौपाल में एग्रीकल्चर टुडे के राष्ट्रीय संवादाता रौशन कुमार, प्रशिक्षण – डॉ. अनुपम कुमारी उप निर्देशक प्रसार शिक्षा संयोजक डॉ. पुष्पा सिंह उप निर्देशक प्रसार, डॉ. पी.के. रॉय, सकरा से तकनीकी सहायक- अतुल हक खान, किसान सलाहकार- कृष्ण प्रकाश गुप्ता, जिले के अलग-अलग प्रखंड से जुड़े किसानों व युवाओं ने भाग लिया।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!