विधायक ने दारोगा से हाल पूछा तो दारोगा ने कहा-‘हाल क्या है दिलों का न पूछो सनम’ , हुआ निलंबित

Share

सत्तर के दशक की फिल्म अनोखी अदा का चर्चित गीत ‘हाल क्या है दिलों का न पूछो सनम’ को मोबाइल पर विधायक को सुनाना चनपटिया के दारोगा को महंगा पड़ गया है। दारोगा अक्सर फोन पर लोगों से अभद्र व्यवहार करते थे। चंपारण रेंज के डीआईजी ललन मोहन प्रसाद के आदेश पर एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा ने मामले की जांच करवायी। जांच में चनपटिया थाना के दारोगा निरंजन कुमार के करतूत की पुष्टि होने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।मामला यह है कि चनपटिया के विधायक उमाकांत सिंह को एक ग्रामीण ने फोन कर बताया कि थाना के सरकारी मोबाइल पर उन्होंने सूचना देने के लिए फोन किया तो दारोगा ने उनका नाम और टाइटल पूछा। फोन करने वाले को दारोगा ने कहा कि ठाकुर और जमींदारी की प्रथा अब खत्म हो गई है। तुम कैसे ठाकुर हो। ग्रामीण ने इसकी शिकायत विधायक से की।

विधायक ने मामले की जानकारी लेने के लिए चनपटिया थाना के सरकारी मोबाइल पर फोन किया, फोन में उनका नंबर भी लिखा हुआ है। दारोगा निरंजन कुमार ने फोन उठाया तो विधायक ने पूछा कि क्या हाल है। तब दारोगा ने शायराना अंदाज में फिल्मी गाना ‘हाल क्या है दिलों का ना पूछो सनम’ को गाया। विधायक ने इसकी शिकायत डीआईजी से की।


Share

Vikash Mishra

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!