जरूरतमंदों की मदद करने के लिए डॉक्टर से आईएएस अफसर बनीं- निधि पटेल

Share

ऐसे बहुत से युवा हैं, जिन्हें यूपीएससी (UPSC) जैसी कठीन परीक्षा में भी बहुत जल्दी सफलता हाथ लग जाती है। आज ऐसे डॉक्टर की बात करेंगे, जिन्होंने मात्र 9-10 माह ही यूपीएससी (UPSC) तैयारी की और इस क्षेत्र में अपने जीत के परचम लहराये।

निधि पटेल (Nidhi Patel) ने पहले डॉक्टरी (Doctor) के क्षेत्र में अपना योगदान दिया, मगर आज वह आईएएस अधिकारी (IAS Officer) बनकर अपना योगदान दे रही हैं। उन्होंने MBBS एवं MS की डिग्री हासिल करके डॉक्टर के रूप में लोगों को सेवाएं दी हैं। आगे उन्होंने UPSC का मन बनाया और इसमें भी कामयाबी हासिल की।

इंटरमीडिएट के बाद आया एमबीबीएस का ख्याल

निधि पटेल (Nidhi Patel) मेडिकल के क्षेत्र में रुचि रखती थी, इसलिए उन्होंने इंटरमीडिएट के क्षेत्र अपना कदम बढ़ाया और डॉक्टर बनी। डॉक्टर बनकर उन्होंने सभी ज़रूरतमंदों की मदद की। अब उन्होंने यह निश्चय किया कि आईएएस (IAS) अधिकारी बनकर देश की सेवा करेंगी। अपनी डॉक्टरी की नौकरी को छोड़ वह आईएएस (IAS) की तैयारी में लग गईं।

प्रथम प्रयास में हुई सफल

अब निधि ने तैयारी प्रारंभ की और 9 माह में उन्होंने अपनी मेहनत के बदौलत सफलता हासिल कर ली।
उन्होंने अधिक उत्तर लिखें, समय प्रबंधन का भी ध्यान रखा। तैयारी के दौरान उन्होंने बहुत बार रिवीजन किया ताकि पूरी तरह हर चीज़ को समझ सकें। अब उन्होंने एग्जाम दिया और पहली बार में ही सफलता हासिल कर IAS बनी।

वह अन्य कैंडिडेट्स को यह सलाह देती हैं कि जितना हो सके उतना उत्तर लिखिए, लगातार प्रैक्टिस करते रहिए। आप ऐसा जबाब दिजिए कि सबका ध्यान आपकी तरफ आकर्षित हो और उत्तर प्रभावशाली भी हो। कोशिश करें कि आप परीक्षा में कोई प्रश्न ना छोड़े।


Share

NNB Live Bihar

NNBLiveBihar डॉट कॉम न्यूज पोर्टल की शुरुआत बिहार से हुई थी। अब इसका विस्तार पूरे बिहार में किया जा रहा है। इस न्यूज पोर्टल के एडिटर व फाउंडर NNBLivebihar के सभी टीम है। साथ ही वे इस न्यूज पोर्टल के मालिक भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!